November 29, 2022

BIG NEWS: इन 11 जिलों में सख्त पाबंदी का हुआ ऐलान, जाने शादी कार्यक्रमों में अब कितने लोगों की मिलेगी अनुमति

चंडीगढ़। कोरोना वायरस (कोविड-19) से एक बार फिर देश प्रदेश भर में हड़कंप मच गया है। जिसके चलते अब सरकारें भी अलर्ट हो गई है। कोरोना को देखते हुए अब कई राज्यों व जिलों में लॉकडाउन,नाइट कर्फ्यू,जनता कर्फ्यू जैसे सख्त नियम व दिशा-निर्देश जारी कर रही है। इसी कड़ी में अब पंजाब की सरकार भी कोरोना को देखते हुए अलर्ट हो गई है। राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस महामारी से बुरी तरह प्रभावित 11 जिलों में कड़ी पाबंदियों की घोषणा की है।

आगामी 31 मार्च तक ये पाबंदियां-
सरकार ने प्रभावित जिलों में सामाजिक समारोह पर रोक लगा दी है। साथ ही शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया गया हैम हालांकि, इस पाबंदियों से मेडिकल और नर्सिंग कॉलेजों को छूट रहेगी। ये पाबंदियां आगामी 31 मार्च तक जारी रहेगी। ये पाबंदियां 21 मार्च रविवार से लागू हो जाएंगी।

समाजिक कार्यक्रमों में लगी रोक-
पंजाब के लुधियाना, जालंधर, पटियाला, मोहाली, अमृतसर, होशियारपुर, कपूरथला, शहीद भगत सिंह (एसबीएस) नगर, फतेहगढ़ साहिब, रोपड़ और मोगा में सभी सामाजिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी गई है। इस दौरान अंतिम संस्कार और शादी कार्यक्रम किया जा सकता है, लेकिन इनमें केवल 20 लोगों को आने की अनुमति होगी। साथ ही इन जिलों में रात 9 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा।

50 फीसदी क्षमता के साथ सिनेमाघर-

राज्य ने सिनेमाघरों को 50 फीसदी क्षमता से संचालित करने के लिए कहा है। वहीं, मॉल में एक बार में 100 से ज्यादा लोगों को इकट्ठे होने की अनुमति नहीं है। सीएम सिंह ने वायरस प्रसार को रोकने के लिए लोगों से अगले दो हफ्तों के लिए घर पर ही ‘सामाजिक गतिविधियां’ आयोजित करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि इन कार्यक्रमों में बाहर के 10 से ज्यादा लोग शामिल न हों

पढ़े- बड़ी खबर: शादी के चार दिन बाद भांजे के साथ मामी फरार, रिश्ता हुआ शर्मसार

11 प्रभावित जिलों में सीएम ने सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स, रेस्त्रां, मॉल और ऐसी ही दूसरी जगहों को रविवार को बंद रखने के लिए कहा है। हालांकि, नाइट कर्फ्यू के दौरान होम डिलीवरी की जा सकेंगी।

पढ़े- SEX RACKET: कोतवाली पुलिस ने किया सेक्स रैकेट का पर्दाफाश, 5 युवक और 4 युवती आपत्तिजनक अवस्था मे गिरफ्तार

सीएम ने पाबंदियों के दायरे में नहीं वाले दूसरे जिलों की भी निगरानी करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने यह साफ किया है कि अगर हालात बिगड़ते हैं, तो दूसरे जिलों में भी कड़ी पाबंदियां लगाई जाएंगी। सीएम ने बताया कि दो हफ्तों बाद हालात की समीक्षा की जाएगी।

पढ़े- कोरोना BREAKING: बिग बॉस-14 फेम ये एक्ट्रेस पाई गई कोरोना पॉजिटिव, एक्ट्रेस ने दी जानकारी

सरकार की कोविड एक्सपर्ट टीम के प्रमुख केके तलवार ने कहा है कि मामलों में इजाफा स्कूल और कॉलेज खुलने का नतीजा लग रहा है, जहां बगैर लक्षण वाले युवा वायरस को फैला रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि म्यूटेंट्स के कारण मामलों में बढ़त हुई है, क्योंकि अब तक पंजाब में नए स्ट्रेन के दो ही मामले सामने आए हैं।