November 29, 2022

छत्तीसगढ़ : छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन और कोरोनाकाल बन कर आई कलाकारों के लिए मुसीबत

रायपुर। कोरोना के प्रकोप को देखते हुए प्रदेशभर में एक बार फिर लॉक डाउन लगा दिया गया हैं। एक तरफ कोरोना से बचाओं के लिए लॉकडाउन का सहारा लिया गया है तो वही दूसरी ओर लॉक डाउन किसी के लिए मुशीबत बन कर आई और वह है छत्तीसगढ़ के कालाजगत। कलाकारों के सामने अब रोजी रोटी की समस्या आन पड़ी है।

इसे भी पढ़े– BIG NEWS CG : सिरफेरे बेटे ने की पिता और दादी की निर्मम हत्या

छत्तीसगढ़ फिल्म उद्योग बीते वर्ष से कोरोना संक्रमण की मार झेल रहा है, न यहां कलाकारों को फिल्में मिल रही हैं और न ही कोई निर्माता-निर्देशक फिल्म बना रहा है। कोरोना ने जैसे मनोरंजन जगत को खत्म ही कर दिया है। छत्तीसगढ़ लोकरंग नाचा विधा से पूर्ण है, यहां हर गांव में 2-3 कला समूह संगठित हैं पर इन्हें बीते कोरोना काल से अब के कोरोना काल तक कोई काम नहीं मिला और न ही कहीं आयोजन के लिए सरकार ने स्वीकृति दी, इससे बड़ा प्रभाव कलाकार परिवारों के जीवनस्तर पर पड़ा।

इसे भी पढ़ें– वायरल हुआ फर्जी लेटर : जाने छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन की अवधि में शराब दुकान खुलेंगे या नहीं

उनके सामने रोजी रोटी की समस्या और जीवनयापन के लिए कोई काम करने की मजबूरी आ पड़ी, खबरें यहां तक आई की कलाकार कहीं सब्जी तो कहीं सड़कों पर कपड़े बेच रहे हैं, इस कोरोनाकाल ने फिल्म उद्योग को भी बड़ा धक्का दिया, टेक्नीसीयन से लेकर स्पॉट बॉय तक को रोजी रोटी की समस्या से जुझना पड़ रहा है।

इसे भी पढ़ें– VIRAL VIDEO : पुलिसवाले ने कपल को मारी सरेआम गोली, जानिए आखिर क्या है इस विडियो की सच्चाई

कोरोना ने न सिर्फ कला समाज बल्कि हर व्यवसाय को प्रभावित किया है, बाजार लगातार नीचे गया है, महंगाई ने उत्रोत्तर वृद्धी की है, जिस तरह लॉकडाउन ने विकास की दरों को सर के बल गिराया है, शायद इन परिस्थितियों ने मानव जीवन को कई साल पीछे कर दिया है, अब देखना होगा हमारी सरकारें जनआवश्यकताओं और जन भावनाओं को किस तरह सम्मान करती है।

Share this page to Telegram