December 2, 2022

मनोकामना पूरी करने शिक्षक ने बनाया तेंदुए की खाल का बिस्तर, वन विभाग ने किया गिरफ्तार

दंतेवाड़ा। दंतेवाड़ा जिले के पातररास से वन विभाग ने एक शिक्षक के घर से तेंदुए की खाल बरामद की है। मुखबिर की सूचना पर वन विभाग ने कार्रवाई की है।

पढ़िए पूरी खबर-
जानकारी के अनुसार वन विभाग के एसडीओ अशोक सोनवानी को मुखबिर से सूचना मिली थी कि पातररास में एक शिक्षक संतोष जायसवाल अपने घर पर तेंदुए की खाल छिपा रखा है, जिसे वह जल्द बेचने की तैयारी में है। आरोपी शिक्षक संतोष जायसवाल दंतेवाड़ा के भोगाम में प्राथमिक विद्यालय में वर्ग 03 का शिक्षक है। जिसने वर्षभर पहले 25 हजार में तेंदुए की खाल को तस्करी के नीयत से खरीदी थी। पर उसे बेचने के लिए उसे ग्राहक नही मिल रहे थे।

इसे भी पढ़े- कोरोना BREAKING CG : शादी समारोह में इस गांव के लोगों को सामिल होना पड़ा महंगा, 135 लोग हुए कोरोना संक्रमित

वन विभाग दंतेवाड़ा के एसडीओ अशोक सोनवानी ने मामले के संबंध में बताया कि आरोपी तेंदुआ की खाल को ही सोने का बिस्तर बनाया था। अंधविश्वास के चलते शिक्षक का मानना था कि इस तरह सोने से मनोकामना पूरी होती है। मनोकामना पूर्ण होते ही वह खाल को बेच देना चाहता था। जिससे शिक्षक ने इस खाल को खरीदा था, उसे भी पकड़ने की तैयारी में वन विभाग जुट गया है। बता दें कि बस्तर में वन्य प्राणियों पर तस्करी की वजह से गहरा संकट मंडरा रहा है।

 

Share this page to Telegram