December 8, 2022

डॉ. उत्कर्ष त्रिवेदी कोरोना मरीजों को पहुंचा रहे राहत, 1000 मरीजों को कर चुके स्वस्थ्य

रायपुर। शहर के पुरानी बस्ती लिली चौक स्थित क्लिनिक में होम्योपैथिक चिकित्सा सेवा के जरिए युवा चिकित्सक डॉ. उत्कर्ष त्रिवेदी द्वारा कोरोना मरीजों की जी जान से चिकित्सा की जा रही है। डॉ. त्रिवेदी ने चर्चा के दौरान बताया कि अभी तक कोरोना की अन्य विधाओं में दवा नहीं खोजी जा सकी है। जबकि होम्योपैथिक दवा के जरिए ही वे पिछले लाकडाउन एवं वर्तमान लाकडाउन में हिम्मत के साथ कोरोना मरीजों की चिकित्सा करते हुए उन्हें राहत पहुंचा रहे हैं। डॉ. त्रिवेदी ऐसे मरीजों की चिकित्सा कर रहे हैं जिन्हें बड़े अस्पतालों से जगह नहीं है कहकर वापस भेजा जा रहा है। मरीजों की सेवा करना उन्होंने अपने पिता डॉ. विद्याकांत त्रिवेदी से बचपन से ही सीखा है। लक्ष्य बांधकर मरीजों को ठीक करने का जज्बा डॉ. उत्कर्ष को अन्य लोगों से अलग करता है। वर्तमान समय में जब कोरोना मरीजों को बिना भेदभाव के चिकित्सा दिये जाने की आवश्यकता है तब बड़े बड़े बिलों के चलते अस्पतालों का खर्च न उठा पाने वाले मरीजों को अपने क्लिनिक में बैठकर उनके दर्द को सुनकर राहत पहुंचाने में युवा चिकि त्सक का योगदान सराहनीय है। गोपियापारा स्थित वरिष्ठ आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. आरएन शर्मा ने बताया कि जिस सेवा भाव से युवा चिकित्सक डॉ. उत्कर्ष मरीजों की सेवा कर रहे है वह शहर के मुसीबतजदा मरीज के लिए बड़ी राहत से कम नहीं हैं। डॉ. शर्मा ने बताया कि वे स्वयं क्लिनिक के सामने से गुजरते हुए डॉ. उत्कर्ष को मरीजों के साथ प्रेमभाव से चिकित्सा करते हुए देख चुके हैं। चर्चा के दौरान डॉ. त्रिवेदी ने बताया कि वे अब तक 1000 से अधिक कोरोना के मरीजों को होम्योपैथिक दवा के जरिये ठीक कर चुके हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज जारी है।

You may have missed