November 28, 2022

प्रताड़ना से तंग आकर महिला ने लगाई खुद को आग, इधर माैका पाकर पति ने रचा ली प्रेमिका से ब्याह

धमतरी । छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले से एक खबर सामने आ रही है जहां, पति की प्रताड़ना से तंग महिला ने खुद को आग लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। उसे रायपुर के अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां अस्पताल में इलाज चल रहा है।

इसे भी पढ़ें– Total Lockdown CG 2021 : छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में हुआ टोटल लॉकडाउन, जाने किन जिलों में कब तक

वही प्रताड़ित करने वाले पति ने माैका पाकर प्रेमिका से विवाह कर लिया। महिला इलाज कराकर वापस लाैटी तब उसे इस बात की जानकारी हुई। इसके बाद उसने थाने में रिपाेर्ट की। पुलिस ने आराेपी पति काे गिरफ्तार कर, जेल भेजा गया है।

पढ़िए पूरी खबर–
जानकारी के मुताबिक दहेज कम लाने का आरोप लगाकर मारपीट और अपशब्द कहकर आत्महत्या करने के लिए उकसाने वाले पति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

इसे भी पढ़ें– कोरोना BREAKING : लॉकडाउन के बाद भी कोरोना के प्रकोप से दहल रहा छत्तीसगढ़, आज आंकड़ा हुआ 12 हजार के पार और मौत 150 के पार

करेली बड़ी चौकी प्रभारी एसआई संतोष साहू ने बताया कि भेंडरी निवासी कामदेव उर्फ बलराम साहू पिता सियाराम साहू का विवाह 5 मई 2019 को कुरूद कचना की निवासी दीपा साहू के साथ हुआ था। विवाह के 4 माह बाद कामदेव साहू अपनी पत्नी को तुम पसंद नहीं हो कहने लगा। दहेज कम लाने का आरोप लगाकर प्रताड़ित करने लगा। इससे दीपा साहू परेशान हो गई थी। उसने 29 जुलाई 2020 को अपने ऊपर मिट्टी तेल डालकर आत्महत्या करने की कोशिश की।

इसे भी पढ़ें– BIG NEWS : छत्तीसगढ़ में एक और कांग्रेसी नेता की कोरोना से हुई मौत

आग से झुलसी दीपा साहू का इलाज रायपुर के निजी अस्पताल में चल रहा था। इसी दौरान आरोपी कामदेव साहू ने 6 दिसंबर 2020 को अपनी प्रेमिका के साथ शादी कर ली। इसकी शिकायत पहली पत्नी दीपा साहू ने 17 अप्रैल को करेली बड़ी चौकी में की है। पुलिस ने केस दर्ज किया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी पति कामदेव साहू भेंडरी के लिए खिलाफ आत्महत्या करने के लिए उकसाने पर धारा 498(क), 324, 494 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

इसे भी पढ़ें– युवक ने पापा की साली से भागकर रचाई शादी, शादी के बाद बेटा बन गया अपने ही पिता का साढ़ू

मिली जानकारी के अनुसार मामले में समाज के लाेगाें ने बैठक कर मामले काे सुलझाने का प्रयास किया। लड़की के माता-पिता ने लड़की का हक दिलाने का प्रयास किया। बैठक में भी मामला नहीं सुलझा। इसके बाद थाने में शिकायत की गई।

You may have missed