April 12, 2024

छत्तीसगढ़ चेम्बर ने दोपहर 3 बजे तक व्यापार करने की मांगी अनुमति, सीएम को लिखा पत्र


रायपुर। छत्तीसगढ़ चेम्बर आफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी, महामंत्री अजय भसीन एवं कोषाध्यक्ष उत्तम ने बताया की आज चैम्बर ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से पत्राचार के माध्यम से प्रदेश में 26.04.2021 से अनलॉक कर सीमित समय के लिये व्यापार-व्ययसाय करने की अनुमति देने हेतु आग्रह किया है।


छत्तीसगढ़ चेम्बर आफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया की प्रदेश में कोरोना के बढ़ते सक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा व्यापारी वर्ग के साथ साथ आम नागरिकों को राहत पहुँचाने के उद्देश्य से प्रदेश में सम्पूर्ण लॉकडाउन किया गया है, जो कि उस समय आवश्यक था। चेम्बर के साथ-साथ ने भी राज्य सरकार के इस निर्णय की सराहना की है। और शासन का पूरा सहयोग किया।

श्री पारवानी ने बताया कि विदित हो कि प्रदेश में पिछले दो चरणों को मिलाकर 17 दिनों से लॉकडाडन है जिससे कि राज्य की आर्थिक गतिविधियां रूकी हुई है। व्यापारी वर्ग को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है एवं आम नागरिक भी है। छोटे व्यापारी एवं मजदूर वर्ग तथा मध्यमवर्गीय परिवारों को इस समय कठिनाई के दौर से गुजरना पड़ रहा है। और साथ ही साथ आवश्यक वस्तुओ की सप्लाई चैन की स्थिती थी बिगढ़ते जा रही है और आवश्यक वस्तुओ की सप्लाई नहीं हो रही है। उन्होने आगे कहा कि लॉकडाउन होने के कारण व्यापारी वर्ग को घर का खर्च, दुकान का किराया, घर एवं दुकान का बिल, दुकान के कर्मचारियों का वेतन, बैंक का ब्याज, दुकान का ईएमआई, बच्चों के स्कूल का फीस, जीएसटी एवं टैक्स का भुगतान, दवाई का खर्च एवं अन्य फुटकर खर्च के लिए पैसे की आवश्यकता होती हैं। चं कि अभी पूर्णतः है, जिसके कारण पैसे का आवक नहीं हो रहा है। जबकि ये खर्च अति आवश्यक है।

पारवानी ने आगे कहा कि व्यापारी वर्ग अभी भी कोरोना के पहले लहर से हुए नुकसान से अभी तक नहीं उबर पाया है और में उसे दूसरे लहर से भी काफी नुकसान हो रहा है। होटल और रेस्टोरेंट व्ययसाय वालों का तो पूरी तरह से व्यापार बंद है, में उन्हें कम से कम टेकअवे के साथ व्ययसाय आरंभ करने दिया जाना चाहिए। इस तरह सभी व्यापार एवं व्ययसाय को हुए लॉकडाउन को आगे नहीं बढ़ाना चाहिए। पारवानी ने कहा कि पूर्ण लॉकडाउन को आगे ना बढ़ाते हुए सभी व्यापार एवं व्ययसाय को सीमित समय के लिये खोला जाना चाहिए जिससे व्यापारीवर्ग के साथ-साथ आम लोगों को भी इसका लाभ मिल सकें।पारवानी ने मुख्यमंत्री बघेल से अनुरोध किया है कि लॉक डाउन के निर्णय पर पुर्नविचार करते हुए सारे व्यापार दोपहर 3 बजे तक खोलने की अनुमति दी जावे, जिससे महामारी नियंत्रण के साथ साथ आर्थिक गतिविधियां भी सुचारू रूप से चलती रहें और साथ ही आम नागरिकों को भी राहत मिल सके।

आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई वाले व्यापार को अनलॉक के प्रथम 2 दिन तक पूरे दिन तक व्यापार का समय दिया जाये ताकि जो सप्लाई चैन प्रभावित हुआ है सामान्य हो सकें जिसके बाद तीसरे दिन से अन्य व्यापार एवं व्ययसाय की तरह सभी को 3 बजे तक व्यापार करने दिया जाये।

पारवानी ने यह भी कहा कि जो भी जनजागरण अभियान शासन व प्रशासन द्वारा चलाया जायेगा उसमें व्यापारी वर्ग शासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करेगा एवं सभी नियमों का पालन करते हुए व्यापार करेगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed