December 8, 2022

BIG NEWS : छत्तीसगढ़ के इस कांग्रेसी विधायक के गले में फंसा मछली कांटा

रायपुर। छत्तीसगढ़ से इस वक्त एक बड़ी खबर मिल रही है की छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्री कवासी लखमा के बाद राज्य के एक और विधायक मछली के काँटे के फेर में सांस गँवाते-गँवाते बचे हैं। विधायक की हालत इस कदर गंभीर हुई थी कि आपात स्थिति को देखते हुए हैलीकाप्टर भेजे जाने की तैयारी कर ली गई थी। लेकिन भला हो स्थानीय एक डॉक्टर का जिसने काँटा निकाला और जान बचा ली।

इसे भी पढ़ें– बड़ी लापरवाही : बेड पर चाय पीती जीवित महिला का अस्पताल प्रबंधन ने जारी कर दिया डेथ सर्टिफिकेट, जानिए फिर क्या हुआ आगे..

मामला मनेंद्रगढ़ विधायक विनय जायसवाल का है, विधायक जी शौक़ से मछली खा रहे थे अचानक काँटा गले में जा फँसा। भात समेत सारे उपाय आज़माए गए लेकिन काँटा नहीं निकला, उसके उलट वो श्वास नली और भोजन नली के ठीक बीच में जा फँसा।

नतीजतन साँस लेने में दिक़्क़त होने लगी। आनन फ़ानन में हैलीकाप्टर तैयार कराया गया हालाँकि उसी बीच मनेंद्रगढ़ सेंट्रल अस्पताल के चिकित्सक ने वह काँटा निकाल लिया और विधायक समेत सबकी सांस में सांस आई। पंक्तियों के लिखे जाने तक विधायक डॉ विनय जायसवाल घर पहुँच चुके थे।

इसे भी पढ़ें– कोरोना प्रकोप: अपने पिता की अर्थी को कार में बांधकर श्मशान घाट पहुंचा मजबूर बेटा

आपको याद होगा कि मंत्री कवासी लखमा डोंगरगढ दर्शन को गए थे, वे दर्शन के बाद गेस्ट हाउस पहुँचे जहां उन्हें मछली खिलाई गई। मछली काँटे ने गले में ठौर कर लिया और कुछ देर की कोशिशों के बाद वहां के कुछ डॉक्टर्स ने उनके गले की फांस बने कांटे को बाहर निकाल लिया था।

Share this page to Telegram

You may have missed