July 24, 2024

छत्तीसगढ़ में बदला मौसम का मिजाज: प्रदेश में अब बढ़ेगी गर्मी:उत्तर से ठंडी हवाओं का आना रुका, अब दक्षिण हो गई हवा की दिशा


छत्तीसगढ़ के मौसम में तेजी से बदलाव हुआ है। प्रदेश में उत्तर से आ रही ठंडी और बर्फीली हवाओं का आना रुक गया है। अब हवा की दिशा दक्षिण हो गई है। इसकी वजह से न्यूनतम तापमान बढ़ना शुरू हो रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में शनिवार-रविवार की रात सबसे कम तापमान भी 10 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज हुआ है। शनिवार को दिन का अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ था।


रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र से जारी आंकड़ों के मुताबिक रविवार को कबीरधाम प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा। यहा न्यूनतम तापमान 10.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। प्रदेश के उत्तरी और दक्षिणी छोर पर अब एक जैसा तापमान हो गया है। उत्तर के जशपुर में 12.2 डिग्री, कोरिया में 13.7 डिग्री और अंबिकापुर में 13.9 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड हुआ है। वहीं दक्षिण के नारायणपुर के 11.8 डिग्री, कांकेर में 13 डिग्री और जगदलपुर में 14 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज हुआ है। रायपुर में रात सबसे गर्म रही।

यहां न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस रहा है। वहीं बिलासपुर और रायगढ़ में इसे 16 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। एक दिन पहले यानी 21 जनवरी को जशपुर के डुमरबहार में सबसे कम 10.6 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज हुआ था। रायपुर में यह 17.2 डिग्री और बिलासपुर में 15.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। अंबिकापुर में इसे 12.6 और जगदलपुर में 15.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। इन सभी शहराें के न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन-चार डिग्री सेल्सियस अधिक रहे हैं। रविवार को प्रदेश के अधिकांश जिलों में धूप खिला है। कुछ जिलों में हल्के बादल भी छाये हुए हैं, इसकी वजह से मौसम खुशगवार हो गया है।

दिन में सरगुजा संभाग सबसे ठंडा

एक दिन पहले तक दिन में सरगुजा संभाग के जिलों में तापमान अधिक ठंडा रहा। 21 जनवरी को प्रदेश भर में सबसे अधिक तापमान 32.2 डिग्री सेल्सियस रहा। इसे महासमुंद के कृषि विज्ञान केंद्र में रिकॉर्ड किया गया था। रायपुर का अधिकतम तापमान भी 30.8 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं अंबिकापुर का अधिकतम तापमान 26.5 डिग्री, कोरिया और जशपुर का 28.4 डिग्री सेल्सियस रहा जो प्रदेश में सबसे कम था। केवल दुर्ग संभाग के कबीरधाम जिले में अधिकतम तापमान 27.3 तक रहा। बस्तर में अधिकतम तापमान 29 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा।

इस महीने दो बार 10 के पार जा चुका है न्यूनतम तापमान

छत्तीसगढ़ के मौसम तंत्र में दिसम्बर-जनवरी के महीनों में ही सबसे अधिक ठंड पड़ती है। इस साल जनवरी में सीजन का न्यूनतम तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हो चुका है। लेकिन इस महीने न्यूनतम तापमान दो बार 10 डिग्री सेल्सियस का आंकड़ा पार भी कर चुका है। 14 जनवरी को न्यूनतम तापमान 10.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ था। उस दिन यह कबीरधाम में रिकॉर्ड हुआ। 15 जनवरी को जशपुर में 10.2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान प्रदेश में सबसे कम था। लेकिन अगले ही दिन हवा की दिशा उत्तरी हुई और न्यूनतम तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस तक लुढक गया।

सात जनवरी को सबसे ठंडा था रायपुर

इस महीने 7 जनवरी को सीजन की सबसे अधिक ठंड रिकॉर्ड की गई थी। उस दिन कोरिया का न्यूनतम तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस रहा। जशपुर में यह 4 डिग्री और सरगुजा में 4.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। बिलासपुर संभाग के जिलों का न्यूनतम तापमान भी 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया था। वहीं रायपुर संभाग में बलौदा बाजार का तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस तक गिरा। रायपुर में पारा 11 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। 8 जनवरी को कबीरधाम का न्यूनतम तापमान 2.7 डिग्री सेल्सियस था। अगले चार दिनों तक प्रदेश में शीतलहर की स्थिति रही।


You may have missed