February 25, 2024

दोस्ती तोड़ने पर फेंका तेजाब: 8 साल से दोनों हर वक्त रहते थे साथ


लखनऊ में शनिवार को मां-बेटे पर दो लड़कों ने एसिड अटैक किया था। सोमवार को पुलिस दोनों आरोपियों को पकड़ कर मामले का खुलासा कर दिया। हमले में घायल हुए युवक की एक आरोपी से 8 साल से दोस्ती थी। दोनों के बीच गहरे अंतरंग संबंध थे।


मगर, युवक ने दोस्त से बात करना बंद कर दिया था। वह आरोपी का फोन कॉल भी नहीं उठाता था। वहीं, आरोपी का इसके चलते मन लगना बंद हो गया था। उसे हमेशा अपने दोस्त की याद आती थी। इससे गुस्से में आकर उसने तेजाब से हमला कर दिया। हालांकि, मां पर गलती से छींटें आ गईं। दोनों को गंभीर हालत में लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां दोनों की हालत खतरे से बाहर है। DCP पूर्वी हृदेश कुमार ने सोमवार को बताया कि दोनों को जेल भेज दिया गया है।

साथ रहने की बात पर बानी दोनों के बीच दूरी

गोमतीनगर के विराम खंड-3 में विकास वर्मा और आकाश वर्मा उर्फ विक्की अपनी मां अनीता वर्मा के साथ रहते हैं। करीब 8 साल पहले विकास की दिल्ली के बवाना ओचंदी में रहने वाले विक्रम उर्फ विक्की से फेसबुक से दोस्ती हो गई थी। कुछ दिन तक इंटरनेट की दोस्ती के बाद विकास और विक्रम आपस में मिलने-जुलने भी लगे थे। धीरे-धीरे दोनों के बीच घनिष्ठ संबंध हो गए।

दोनों अक्सर एक-दूसरे के साथ रहते थे। कहीं भी जाना होता था, तो साथ ही जाते थे। इसी बीच विक्रम ने विकास से दिल्ली में साथ रहने की जिद करनी शुरू कर दी। मगर, विक्रम को यह बात रास नहीं आई। इतना ही नहीं, पिछले कुछ महीनों से अचानक विकास ने विक्रम से दूरी बढ़ाना शुरू कर दिया था। जिससे विक्रम के दिल-दिमाग ने काम करना बंद कर दिया।

विकास के भाई आकाश ने बताया, “शनिवार रात करीब 9:30 बजे की बात है। घर में मेरी मां और छोटा भाई विकास मौजूद था। तभी 2 अज्ञात लड़कों ने घर का दरवाजा खटखटाया। मेरी मां ने दरवाजा खोला। उसके बाद उन लोगों ने कहा कि विक्की और विकास को बुलाइए। उनकी आवाज सुनकर छोटा भाई विकास जैसे ही बाहर आया, उन लोगों ने मां-भाई पर तेजाब फेंक दिया।”

ADCP पूर्वी सैयद अली अब्बास ने बताया कि इस मामले में दिल्ली बवाना ओचंदी निवासी विक्रम उर्फ विक्की और मोहित कुमार को गिरफ्तार किया गया है। विक्रम ने बताया कि उसकी विकास से दोस्ती थी। आक्रोश में आकर उसने अपने साथी मोहित कुमार और रोहतास बालोट निवासी दीपक के साथ मिलकर अपनी कार की बैटरी से तेजाब निकाल कर घटना को अंजाम दिया था।

आरोपी विक्रम ने हरियाणा के एक इंजीनियरिंग कॉलेज से बीटेक किया था। वह इंटीरियर डिजाइनिंग का काम करता है। उसकी शादी हो चुकी है और दो बच्चे भी हैं। विक्रम ने बताया कि उसके घरवालों को साल 2018 में विकास के साथ संबंध के बारे में पता चल गया था।

यही वजह है कि आकाश से दूरी बढ़ाने के लिए घरवालों ने IVF के माध्यम से दो बच्चे भी करवा दिए। लेकिन, फिर भी विक्रम का परिवार के साथ मन नहीं लग रहा था। इसीलिए वह विकास से घर-परिवार छोड़कर दिल्ली में साथ रहने की बात कह रहा था​।​​​​​​

दोस्त संग लखनऊ आया, बाइक से गया विकास के घर
आरोपी विक्रम उर्फ विक्की ने बताया, ”हमने पहले हमला करने की योजना बनाई। फिर 29 जनवरी को अपने मामा के लड़के मोहित कुमार और दोस्त दीपक के साथ दिल्ली से लखनऊ आ गया। यहां एक परिचित की बाइक लेकर हम लोग आकाश के घर गए। वहां दरवाजा खोलने विकास की मां और उसका भाई आए। उनके बाहर आते ही मोहित और दीपक ने बोतल से तेजाब फेंक दिया। इसी वजह से तेजाब की कुछ बूंदें आकाश की मां अनीता के ऊपर भी गिर गए। लेकिन, उनको नुकसान पहुंचाने का हमारा कोई इरादा नहीं था।”

ADCP पूर्वी सैयद अली अब्बास ने बताया कि घटना की सूचना मिलने पर हमने इलाके के CCTV फुटेज देखे। इसमें दो युवक टहलते हुए नजर आ रहे थे। एक युवक के हाथ में बोतल भी है। दोनों ने चेहरे झुका रखे थे। जांच में सामने आया कि CCTV में दीपक और मोहित दिख रहे थे। उनकी लगातार विक्रम से बात हो रही थी। उसी आधार पर सर्विलांस की मदद से दोनों को पकड़ा गया है।


You may have missed