December 8, 2022

रायपुर पुलिस: कोरोना संक्रमित 300 परिवारों को पुलिस विभाग ने उपलब्ध कराई राशन फल सब्जी, दवाई

रायपुर। राजधानी में लॉकडाउन के पहले तकरीबन 300 से ज्यादा परिवारों को राशन फल सब्जी दवाई की मदद कर कोरोना काल में पुलिस जीवन रक्षक दूत के रूप में पीडि़त परिवारों की सेवा कर रहा है। कोरोना पीडि़त परिवार उनके इस सेवा कार्य की शब्दों में बयान नहीं कर पा रहे है बल्कि उन्हें भरे गले से जीवन रक्षक दूत संबोधित कर रहे है। यह पुलिस का पॉजिटिव चेहरा संकटकाल में सभी का विश्वास जीतने में कामयाब हो गया है। लोग अपनी पीड़ा सीधे पुलसि को बता रहे है और पुलिस के जवान उन्हें दवाई से लेकर राशन उपलब्ध करा रहे है।

बता दे कि जिनमें से ज्यादातर लोग कोरोना मरीज निकलने की वजह से उन्हें आइसोलेट किया से वजह से उनका परिवार राशन सहित जरूरी सामान नही खरीद सके और बाजार बंद हो गए। ऐसे लोगों ने पुलिस को फोन पर अपनी मजबूरी बताई कि हमारे घर में भूखों मरने की स्थिति उत्पन्न हो गई है। घर में दाल-चावल से लेकर फल सब्जी के साथ रोजमर्रा को संकट पैदा हो गया है। घर में रिश्तेदार बी नहीं आ रहे है। इस वजह से ऐसे दर्जनों परविार पुलिस और प्रशासन के अफसरों को फोन कर अपनी मुश्किलों को बता रहे है। कुछ मामलों में पुलिस प्रशासन ने ऐसे घरों तक मदद भेजी है लेकिन यह संकट अब और गहरा रहा है।

आजाद नगर टीआई सत्यप्रकाश ने बताया कि रविवार को उनके पास समता कालोनी के एक परिवार से फोन आया। इस परिवार के 7 लोग लॉकडाउन से दो दिन पहले पाडिटिव हुए और निगम ने उनका घर बंद कर दिया। परिवार के सभी लोगों को आइसोलेट रहने के लिए कहा गया। इस परिवार के लोगों ने संकट बढने पर आजाद चौक थाने में फोन किया और अपनी मुश्किल बताई ।पुलिस ने तत्कालिक राहत के तौर पर घर में थोड़ा राशन भिजवाया।

कोटा में भी एक परिवार को सरस्वती नगर पुलिस ने राशन और डेली नीड्स का सामान उपलब्ध करवाया। ऐसे परिवार दूध और दवाइयों के लिए भी पुलिस और प्रशासन से गुहार लगा रहे है और पुलिस के जवान जीवन रक्षक दूत बनकर लोगों की सेवा करने में डटे हुए है? एसएसपी अजय यादव ने बताया कि सभी टीआई को निर्देश दिया गया है कि जरूरतमंद लोगों की मदद की जाए। अगर कोई थाने में फोन करके मदद मांगते है तो उन्हें राशन से लेकर फल, दवाई उपलब्ध कराया जाए। एसएसपी यादव ने बताया कि गोलबाजार पुलिस ने कई लोगों की अंत्येष्टि का सामान दिलवाया है।

Share this page to Telegram

You may have missed