November 29, 2022

धनतेरस के मौके पर पीएम मोदी ने 10 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने ‘रोजगार मेला’ का किया शुभारंभ: रेलवे और डिफेंस में सबसे ज्यादा पद खाली, 10 लाख जॉब्स का पूरा रोडमैप

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने धनतेरस के मौके पर ‘रोजगार मेले’ का शुभारंभ कर दिया है. इस रोजगार मेले का लक्ष्य अलग एक साल में 10 लाख सरकारी पदों पर समयबद्ध तरीके से भर्ती करना है. इसके पहले चरण में 75,000 भर्तियां हो चुकी हैं, जिनके नियुक्ति पत्र देकर आज पीएम मोदी ने इस मेले की शुरुआत की.

रोजगार मेला लॉन्च करते हुए पीएम मोदी ने कही ये बड़ी बातें…
आज केंद्र सरकार आजादी के 75 वर्ष को ध्यान में रखते हुए 75 हजार युवाओं को नियुक्ति पत्र दे रही है। पिछले कई वर्षों में भी लाखों युवाओं को भी नियुक्ति पत्र दिए गए हैं।

अब हमने सोचा है कि इकट्ठे नियुक्ति पत्र देने की परंपरा शुरू की जाए, ताकि डिपार्टमेंट्स में भी टाइम बाउंड प्रक्रिया अपनाने की परंपरा बने। आने वाले समय में भी युवाओं को इसी तरह नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे।

आज भारत की युवा शक्ति के लिए महत्वपूर्ण दिन है। बीते 8 वर्ष में देश में रोजगार और स्वरोजगार का जो अभियान चल रहा है, आज उसमें एक और कड़ी जुड़ी रही है। ये कड़ी रोजगार मेले की है। आज केंद्र सरकार 75000 युवाओं को नियुक्ति पत्र दे रही है।
PMO ने रोजगार मेले से जुड़ी और क्या-क्या इंफॉर्मेशन दी हैं…

22 अक्टूबर को पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस से रोजगार मेला की शुरुआत करेंगे। पीएम मोदी ने जून में मंत्रालयों और विभागों की समीक्षा की थी। यहां मौजूद वैकेंसी भरने के लिए सरकार मिशन मोड में लग चुकी है।

पीएम मोदी 75,000 लोगों को अपाइंटमेंट लेटर भी देंगे। जिन पदों पर भर्ती हुई है उसमें सेंट्रल फोर्स, सब इंस्पेक्टर, कॉन्सटेबल, लोवर डिवीजन क्लर्क, स्टेनो, पर्सनल असिस्टेंट, इनकम टैक्स इंस्पेक्टर और मल्टी टास्किंग स्टाफ शामिल हैं।

आने वाले 14 महीनों में 10 लाख पदों पर भर्ती UPSC, SSC, RRB और अन्य माध्यमों के जरिए की जाएगी। कई मंत्रालय या विभाग खुद अपनी परीक्षा लेंगे।

रोजगार मेला कार्यक्रम में देशभर के केंद्रीय मंत्री भी शामिल होंगे। ओडिशा से शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, गुजरात से स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया, चंडीगढ़ से सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर, महाराष्ट्र से वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल शामिल होंगे

इसके अलावा राजस्थान से रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, तमिलनाडु से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, उत्तर प्रदेश से उद्योग मंत्री महेंद्र पांडेय शामिल होंगे। वहीं झारखंड से आदिवासी मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा और बिहार से पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह भी शामिल होंगे।

Share this page to Telegram