January 27, 2023

CG में एक नाबालिग और एक युवती से रेप: पिता ने बेटी को बनाया हवस का शिकार, तो चार लोगों ने हेल्थ ऑफिसर के साथ किया रेप

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ की न्यायधानी बिलासपुर और मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले दो अलग अलग रेप की घटना सामने आई है पहली घटना बिलासपुर के सकरी थाना क्षेत्र का है, जहां 9 साल की बेटी के साथ उद्योगपति पिता के रेप करने का मामला सामने आया है। रायगढ़ में रहने वाले इस कारोबारी का अपनी पत्नी से भी विवाद है। उसकी मनमानी से तंग आकर पत्नी अपने मायके में रह रही है। इस दौरान वह अपनी बेटी से मिलने आता था और उसके साथ दुष्कर्म करता था। बेटी ने अपनी मां को इस हरकत की जानकारी दी। मां ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस अपराध दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही है।

सकरी क्षेत्र की रहने वाली महिला हाउसवाइफ हैं। उनकी शादी साल 2014 में रायगढ़ में रहने वाले फैक्ट्री संचालक से हुई थी। शादी के बाद उनकी बेटी हुई लेकिन, पति-पत्नी के बीच संबंध ठीक नहीं थे। पत्नी का कहना है कि पति बिना बात के विवाद करता था। पति की आए दिन की प्रताड़ना से तंग आकर महिला अपनी 9 साल की बेटी को लेकर बिलासपुर में अपने मायके में आकर रहने लगी। महिला और उसकी बेटी तीन माह से यहां रह रहीं हैं।

बेटी ने मां को बताई आपबीती
महिला ने पुलिस को बताया कि बीते जुलाई माह से उसके पति की नीयत बेटी पर बिगड़ गई थी। उसने रायगढ़ में भी बेटी के साथ गलत हरकत की। जब महिला ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई। इसके बाद जब वह बिलासपुर आ गई, तब उसका पति बेटी से मिलने के बहाने आता था। यहां वह अच्छा व्यवहार करता और बेटी से अकेले मिलता था। इसी दौरान उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।कुछ दिन पहले ही बेटी ने अपनी मां को पिता के गलत हरकतों की जानकारी दी। मामला सामने आने पर महिला अपनी बेटी को लेकर SSP पारुल माथुर के पास पहुंची। उनके निर्देश पर महिला थाने में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

रायगढ़ का संपन्न कारोबारी है आरोपी
पुलिस ने बताया कि महिला का पति उद्योगपति है और उसका लोहे की चादर और ट्रक बॉडी बनाने का प्लांट है। शादी के बाद कुछ दिन तक तो ठीक चला,लेकिन फिर पति ने नशे में घर आना शुरू कर दिया। सब बातों पर अपनी मनमानी करता और मना करने पर मारपीट करता था। महिला अपनी सामाजिक स्थिति और बेटी के कारण मजबूरी में प्रताड़ना सहते हुए ससुराल में ही रहती थी, लेकिन जब बेटी पर बुरी नजर पड़ी तो वह डर गई। वह बेटी को लेकर अपने मायके आ गई।

रायगढ़ से फरार हो गया है पति
महिला थाना प्रभारी ने बताया कि केस दर्ज करने के बाद पुलिस की टीम आरोपी की तलाश करने रायगढ़ गई थी। इस दौरान उसके घर में दबिश दी गई। लेकिन, वह फरार मिला। पुलिस उसके सभी ठिकानों की जानकारी जुटाकर तलाश कर रही है।

कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (CHO) के साथ रेप
वहीं दूसरी घटना मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के छिपछिपी गांव के झगराखांड थाना क्षेत्र की है, जहां शुक्रवार को कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (CHO) के साथ रेप किया गया। नाबालिग आरोपी ने उप स्वास्थ्य केंद्र के अंदर युवती के हाथ-पैर बांधकर दुष्कर्म किया। जबकि दो आरोपी उसका साथ दे रहे थे,और इस पूरी घटना का वीडियो भी बनाया। मुख्य आरोपी नाबालिग (17 वर्ष) है। फिलहाल पुलिस ने 3 को गिरफ्तार कर लिया है। चौथे आरोपी की तलाश की जा रही है।

झगराखांड थाना प्रभारी दीपेश सैनी के मुताबिक, पीड़िता कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर ग्राम पंचायत पाराडोल की रहने वाली है। वह रोज 5 किलोमीटर दूर छिपछिपी के उप स्वास्थ्य केंद्र में ड्यूटी के लिए सुबह 10 बजे आती है। उप स्वास्थ्य केंद्र परिसर में ही पूर्व माध्यमिक शाला, आंगनबाड़ी और ग्राम पंचायत भवन भी है। दिवाली के त्योहार की छुट्टियां 21 अक्टूबर से स्कूल में दे दी गई है, इसलिए शुक्रवार को स्कूल और आंगनबाड़ी बंद थे। सरपंच अंगद सिंह ने बताया कि, वे और सचिव भी दोपहर 12-1 के करीब कार्यालय में ताला लगाकर घर चले गए थे।

कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर वहां अकेली ही बच गई थी। वैसे तो उप स्वास्थ्य केंद्र छिपछिपी में 3 लोग पदस्थ हैं, लेकिन RHO और एक अन्य स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण के लिए गए हुए थे। एडिशनल एसपी नीमेस बरैंया के मुताबिक, कल दोपहर 3 बजे तीन आरोपी उप स्वास्थ्य केंद्र में आए। इन्होंने नर्स का हाथ-पैर बांध दिए। सिर्फ नाबालिग ने युवती के साथ रेप किया। बाकी के 2 रामकुमार और ओमप्रकाश उसके सहयोगी थे। दोनों सहयोगी घटनास्थल से थोड़ी दूर काम कर रहे कोटवार के नाती किशन से मोबाइल मांगकर लाए और रेप पीड़िता का वीडियो बनाया। इसलिए पुलिस ने कोटवार के नाती को भी आरोपी बनाया है।

आरोपियों ने 2 घंटे के बाद शाम को 5 बजे रेप पीड़िता का हाथ-पैर खोल दिया, और घटना की सूचना किसी को भी नहीं देने की धमकी देकर उसे वहां से जाने के लिए कह दिया। पीड़िता CHO जैसे-तैसे अपनी स्कूटी से अपने घर पाराडोल पहुंची, और परिवार को पूरी जानकारी दी। इसके बाद परिवार वालों के साथ झगराखांड थाने पहुंचकर केस दर्ज करवाया गया। उप स्वास्थ्य केंद्र में दिनदहाड़े इतनी बड़ी वारदात हो जाने से पुलिस भी सकते में आ गई। पीड़िता ने आरोपियों के नाम बता दिए हैं। चौथा आरोपी खड़गवां जनपद पंचायत के कौड़ीमार गांव का है।

आरोपी रामकुमार को लेकर पुलिस चौथे आरोपी की गिरफ्तारी के लिए कौड़ीमार गांव गई है। इधर गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है, ताकि कोई अप्रिय स्थिति नहीं बने। मौके पर आला अधिकारी पहुंचे हुए हैं। फिलहाल घटना की जांच की जा रही है।

Share this page to Telegram

You may have missed