February 25, 2024

गंगासागर मेले में इस साल रिकार्ड भीड़ की संभावना, वाराणसी की तर्ज पर हुई गंगा आरती; Video


पश्चिम बंगाल में गंगासागर मेला10 जनवरी से शुरू हो गया है. इस साल कुंभ मेला नहीं लगने से राज्य प्रशासन को इस बार सागर द्वीप में भारी भीड़ की उम्मीद है. दक्षिण 24 परगना जिला प्रशासन के साथ राज्य सचिवालय नबान्न ने मेले की निगरानी करने का निर्णय लिया है. इस बार लाइव प्रसारण के माध्यम से गंगासागर मेले की निगरानी की जाएगी. नबान्न सीधे तीर्थयात्रियों के आने-जाने से लेकर मेला मैदान तक देखेंगे. इस बीच, सीएम ममता बनर्जी ने गुरुवार को कोलकाता के आउटग्राम घाट में सेवा शिविर का उद्घाटन किया और गंगासागर मेला प्रांगण में वाराणसी की तर्ज पर गंगा आरती का आयोजन किया गया.


गंगासागर मेले में जाने के लिए तीर्थयात्री कोलकाता पहुंचने लगे हैं. कोलकाता के आउटग्राम घाट में उनके लिए अस्थायी शिविर का निर्माण किया गया है. तीर्थयात्री आउटग्राम घाट से गंगासागर के लिए रवाना होना शुरू हो गये हैं.

गंगासागर में गंगा आरती और सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार भीड़ पर नजर रखने के लिए मेले में जगह-जगह कैमरे लगाए गए हैं. ड्रोन से नजरदारी की जा रही है. और जैसे ही सरकारी अधिकारी मेले के कंट्रोल रूम में उनकी तस्वीर देखते हैं, वैसे ही नबान्न को उनकी एक फीड भी भेजी जाने लगी है. वहां से एक और निगरानी जारी रहेगी. सुंदरवन विकास मंत्री बंकिम हाजरा ने 10 जनवरी को गंगासागर मेले में इस निगरानी से जुड़े कंट्रोल रूम का उद्घाटन किया है.

नबान्न को फीड भेजने का काम 10 जनवरी से शुरू हो गया है. अगली 15 जनवरी को मकर संक्रांति है. उस दिन सबसे ज्यादा भीड़ सागर द्वीप में रहेगी. इसलिए यात्रियों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. इसीलिए गंगासागर मेला मैदान को सीसीटीवी कैमरे से कवर कर दिया गया है. कई ड्रोन से नजरदारी चल रही है. कपिल मुनि के आश्रम के सामने सीसीटीवी लगाए गये हैं.


You may have missed