December 2, 2022

रायपुर पुलिस की एक और बड़ी करवाही : रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते 2 मामलों में 6 आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है की रायपुर पुलिस (Raipur Police) ने रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remedicivir injection) की कालाबाजारी (Black marketing) करते दो अलग अलग मामलों में 6 आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

कुछ दिनों से पुलिस को सूचना प्राप्त हो रहीं थी कि रोहित क्षेत्रपाल एवं वैभव साहू नामक व्यक्तियों द्वारा सरस्वती नगर एवं आजाद चैक क्षेत्र में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुये उनके द्वारा इंजेक्शन अधिक दाम में बिक्री किया जा रहा है। जिसपर पुलिस की टीम ने ग्राहक बन कर कालाबाजारी का पर्दाफाश करते हुए आरोपी रोहित क्षेत्रपाल एवं वैभव साहू को रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते रंगे हाथ पकड़ा गया। आरोपी रोहित क्षेत्रपाल का गुढ़ियारी में मेड़िकल स्टोर है। और वह 15000 में रेमडेसिविर इंजेक्शन क्रय करने का सौदा किया था। सायबर सेल की टीम द्वारा औषधि विभाग की टीम को बुलाकर आरोपियों की निशानदेही पर उनके कब्जे से 02 नग रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं नगदी 20,400 रूपये जप्त कराया गया। जिस पर औषधि विभाग की टीम द्वारा आरोपियों के विरूद्ध औषधि अधिनियम के तहत् कार्यवाही करने के साथ ही पुलिस द्वारा आरोपियों के विरूद्ध थाना सरस्वती नगर में पृथक से प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत भी कार्यवाही किया गया।

गिरफ्तार आरोपी–
01. रोहित क्षेत्रपाल पिता शिव क्षेत्रपाल 25 साल निवासी समता कालोनी थाना आजाद चैक रायपुर।

02. वैभव साहू पिता पी आर साहू उम्र 25 साल सिंधु स्कुल के पास थाना मौदहापारा रायपुर।

वही दूसरी तरफ पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि राहुल गोयदानी नामक व्यक्ति द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की जा रहीं है। जिसपर पुलिस टीम ने ग्राहक बनकर कालाबाजारी का पर्दाफाश करते हुए का एक सदस्य ग्राहक बनकर राहुल गोयदानी से संपर्क कर रेमडेसिविर इंजेक्शन को 25,000 रूपये में क्रय करने का सौदा तय किया। और टीम द्वारा आरोपी राहुल गोयदानी को रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते रंगे हाथ पकड़ा गया। टीम के सदस्यों द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा अपने अन्य साथी आयुष माहेश्वरी, कमलेश रतलानी एवं सुमित कुमार मोटवानी के साथ मिलकर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुये 01 नग इंजेक्शन को 25,000 रूपये में बिक्री करना बताया गया। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी में संलिप्त आरोपी आयुष माहेश्वरी, कमलेश रतलानी एवं सुमित कुमार मोटवानी को पकड़ा गया तथा सायबर सेल की टीम द्वारा औषधि विभाग की टीम को बुलाकर आरोपियों की निशानदेही पर उनके कब्जे से 07 नग रेमडेसिविर इंजेक्शन, नगदी 1,38,000 रूपये एवं 05 नग मोबाईल फोन जप्त कराया गया। जिस पर औषधि विभाग की टीम द्वारा आरोपियों के विरूद्ध औषधि अधिनियम के तहत कार्यवाही करने के साथ ही पुलिस द्वारा आरोपियों के विरूद्ध थाना मौदहापारा में पृथक से प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत भी कार्यवाही किया गया।

गिरफ्तार आरोपी–
01. राहुल गोयदानी पिता स्व0 बी.एन. गोयदानी उम्र 28 साल निवासी नेमीचंद गली नंबर 03 थाना आजाद चौक रायपुर।

02. आयुष माहेश्वरी पिता संजय माहेश्वरी उम्र 25 साल निवासी शक्ति बाजार फौव्वारा चैक थाना कोतवाली रायपुर।

03. कमलेश रतलानी पिता हरिराम रतलानी उम्र 32 साल निवासी गायत्री नगर अवंति विहार थाना खम्हारडीह रायपुर।

04. सुमित कुमार मोटवानी पिता गिरधारी लाल मोटवानी उम्र 27 साल निवासी कचहरी चैक सिंधी गली थाना।

 

Share this page to Telegram