February 25, 2024

Viral : मृत्यु के बाद एम्बुलेंस तक नहीं हुई नसीब, कचरा वाहन में शमशान पहुंचे संक्रमितों के शव


राजनांदगाव। प्रदेश में कोरोना का कहर काल बनकर टूटा है। इस संक्रमण की वजह से लोग अकाल मृत्यु को प्राप्त हो रहे है। राजधानी रायपुर के अन्य जिलों के हाल भी भयावह है। वहीं राजनांदगांव जिले में भी कोरोना महामारी ने आतंक मचा रखा है।


इसे भी पढ़े- BIG NEWS CG : सिरफेरे बेटे ने की पिता और दादी की निर्मम हत्या

इसी बीच राजनांदगांव जिले से एक तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर हर किसी का दिल दहला जाएगा । यहां कोरोना संक्रमण के मृतकों के शवों को कचरा उठाने वाली गाड़ी में भरकर शमशान पहुंचाया गया।

इसे भी पढ़े- युवक ने पापा की साली से भागकर रचाई शादी, शादी के बाद बेटा बन गया अपने ही पिता का साढ़ू

डोंगरगांव नगर के कोविड सेंटर में बुधवार को तीन संक्रमित मरीजों के निधन के समाचार ने समूचे क्षेत्र को दहशत में डाल दिया। बुधवार के दिन 12 घंटे के भीतर हुई इन 3 मौतों में तीनों ही महिलाएं हैं, जो बीते दिनों उपचार के लिए भर्ती कराई गई थी। मरने वाली महिलाओं में ग्राम आसरा निवासी दो सगी बहनें हैं, जो कि आपस में देवरानी जेठानी थी।

इसे भी पढ़े- OnePlus 9 and OnePlus 9R latest series : जानिए OnePlus 9 और OnePlus 9R के फिचर्स और कीमत

वहीं, एक अन्य महिला ग्राम जारवाही की है। जानकारी के अनुसार डोंगरगाव विधानसभा क्षेत्र के ग्राम आसरा की 2 सगी बहनों व रिश्ते में देरानी-जेठानी व एक अन्य महिला ने कोरोना से दम तोड़ दिया। बताया गया कि मौत आक्सीजन की व्यवस्था नही होने के कारण हुई।

इसे भी पढ़े- Sex Racket busted : दो होटलों चल रहे सेक्स रैकेट का पर्दाफाश, दर्जनभर युवक–युवतियां गिरफ्तार

इस संदर्भ में एसडीएम डोंगरगांव ने कहा कि मृतक महिलाओं के अंतिम संस्कार कोविड-19 के गाइडलाइन के अनुसार किये जाने के लिए आदेश जारी कर दिया है।

इसे भी पढ़े- सुहाना ने ग्लैमरस मेकअप के साथ अपने क्लासी ब्लैक लुक को किया फ्लॉन्ट

इस दौरान बहुत ही दर्दनाक तस्वीर सामने आई, जिसमें कुछ लोग कोरोना संक्रमित का शव कचरा वाहन में भरकर ले जाते नजर आ रहें है। शर्मनाक बात है कि मरने के बाद इन शवों को एम्बुलेंस तक नसीब नही हुआ और इनकी अंतिम यात्रा कचरे के वाहन में सवार होकर मुक्तिधाम तक पहुंची।

 

यह तस्वीरें सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है। तस्वीरें देखकर राज्य सरकार और जिला प्रशासन के कार्य पर सवाल उठ रहा है। इस मामले में किसी अधिकारी का अभी तक कोई बयान सामने नही आया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed